Jinke Liye Lyrics In Hindi जिनके लिए हम रोते हैं

  • गाना : जिनके लिए हम रोते हैं
  • गायक : नेहा कक्कर
  • गीत और संगीत : जानी
  • म्यूजिक कंपनी : टी सीरीज

तेरे लिए मेरी इबादतें वही हैं

तेरे लिए मेरी इबादतें वही हैं

तू शरम कर तेरी आदतें वही है

जिनके लिए हम रोते हैं

हो जिनके लिए हम रोते हैं

वो किसी और की बाँहों में सोते हैं

जिनके लिए हम रोते हैं

वो किसी और की बाँहों में सोते हैं

हम गलियों में भटकते फिरते हैं

वो समंदर किनारों पर रोते हैं

जिनके लिए हम रोते हैं

वो किसी और की बाँहों में सोते हैं

पागल हो जाओगे आना कभी ना

गलियों में उनकी जाना कभी ना जाना कभी ना

हम ज़िंदा गए करीब उनके

अब देखो मरे हुए लौटे हैं

जिनके लिए हम रोते हैं

वो किसी और की बाँहों में सोते हैं

हाथों से खेलते होंगे या पैरों से

फ़ुरसत कहाँ अब उनको है गैरों से

हाथों से खेलते होंगे या पैरों से

फ़ुरसत कहाँ अब उनको है गैरों से

उनकी मोहब्बतें हर जगह

वो जो कहते थे हम इकलौते हैं

जिनके लिए हम रोते हैं

वो किसी और की बाँहों में सोते हैं

कभी यहाँ बात करते हो कभी वहाँ बात करते हो

आप बड़े लोग हो साहब हमसे कहाँ बात करते हो

आज उस शक्श का नाम बताएँगे

जानी था जानी मिले जिस कायर से

गलती थी छोटी मोहब्बत करी जो

गलती बड़ी थी जो कर बैठे शायर से

आग का दरिया जफ़ा उनकी

हर दिन लगाने गोते हैं।

जिनके लिए हम रोते हैं

किसी और की बाँहों में सोते हैं

जिनके लिए हम रोते हैं

किसी और की बाँहों में सोते हैं

हो जिनके लिए हम रोते हैं

किसी और की बाँहों में सोते हैं

जिनके लिए हम रोते हैं

किसी और की बाँहों में सोते हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *