Sare Shaher Mein Aap Sa Koi Nahi Lyrics सारे शहर में

मुखड़ा :-

सारे शहर में आप सा कोई नहीं कोई नहीं

सारे शहर में आप सा कोई नहीं कोई नहीं

कोई नहीं कोई नहीं कोई नहीं कोई नहीं

यही सोच कर रात भर मैं सोई नहीं सोई नहीं

सोई नहीं हाँ सोई नहीं सोई नहीं सोई नहीं

सारे शहर में आप सा कोई नहीं कोई नहीं

अंतरा :-

मेरा दिल जिस पे फ़िदा है वो दिलवर वो मेहबूब हो तुम

मेरा दिल जिस पे फ़िदा है वो दिलवर वो मेहबूब हो तुम

थोड़े से तुम हो झूठे आदमी पर बहुत खूब हो तुम

ऐ हसीना बड़ी खूबसूरत है तू

हा हा हा हा

ऐ हसीना बड़ी खूबसूरत है तू

मुस्कुराती हुई कोई मूरत है तू

मैं हूँ यहाँ और तुम हो वहाँ

ओ जाने जां खोये हो कहाँ

कोई तुम्हारी चीज़ तो खोयी नहीं खोयी नहीं

सारे शहर में आप सा कोई नहीं कोई नहीं

अंतरा :-

तुमको मेरी वफ़ा पे जाने क्या क्या गुमां हो रहे हैं

तुमको मेरी वफ़ा पे जाने क्या क्या गुमां हो रहे हैं

कितना भी तुम छुपाओ अफ़साने बयां हो रहे हैं

इश्क करता हूं आशिक मेरा नाम है

आ ! आशिक़ हा हा हा

इश्क करता हूं आशिक मेरा नाम है

ऐश करना मेरी जां मेरा काम है

ऐसे भी हो तुम वैसे भी हो

कैसे भी हो तुम जैसे भी हो

हमको शिकायत आप से कोई नहीं कोई नहीं

सारे शहर में आप सा कोई नहीं कोई नहीं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *